Connect with us

Education

चाणक्य आईएएस एकेडमी झारखंड में स्‍टूडेंट्स को दे रहा है ‘सुपर 50’ बनने का मौका

Published

on

चाणक्या आईएएस ऐकडमी झारखंड में स्‍टूडेंट्स को दे रहा है ‘सुपर 50’ बनने का मौका

13 सितंबर को रांची में सक्‍सेस गुरू बतायेंगे ‘टॉप टिप्‍स’

आर्टस ऑफ सक्सेस के संस्थापक सक्सेस गुरू एके मिश्रा देश की सबसे बड़ी सेवा यानि सिविल सेवा के लिए झारखंड से “सुपर 50” बच्चों को तैयार कर देश की जानी-मानी संस्था चाणक्य आईएएस एकेडमी नि:शुल्क शिक्षा देने के लिए पूरे देश भर में सेमिनार कर रही है। इसकी शुरूआत झारखंड से की जा रही है।

सक्सेस गुरू एके मिश्रा का मानना है कि जीवन में सफल होना ही सफलता का मूल मंत्र नहीं है। सफलता तो जिंदगी में कई मायने में होता है उसे समझने की जरूरत है, किसी परीक्षा में पास या फेल होने को सफलता से नहीं जोड़ना चाहिए। आज कल बच्चे परीक्षा में असफल होते ही निराश हो जाते है, गलत फैसले ले लेते है। जिंदगी में कुछ भी पाना नामुमकिन नहीं है, लक्ष्य तय होना चाहिए, कोशिश निरंतर जारी रहनी चाहिए।

सुपर 50”  के जरिए एक परीक्षा पास करनी होगी इसके बाद चाणक्य आईएएस एकेडमी नि:शुल्क परीक्षा की तैयारी से लेकर मॉक इंटरव्यू करा कर देश की सबसे बडी सेवा में योगदान कराने का मौका देगी। शिक्षा के क्षेत्र में झारखंड को एक सशक्त राज्य बनाने का सपना एके मिश्रा देख रहे रहे है।

एके मिश्रा कम्यूनिकेशन प्राइवेट लिमिटेड देश भर में इस तरह के सेमिनार आयोजित करती है। 13 सितंबर 2017 को रांची के करमटोली चौंक पर सेलिब्रेशन हॉल में सेमिनार का आयोजन किया गया है। सेमिनार के दौरान बच्चों से सवाल जवाब भी किया जाएगा साथ ही शो की पूरी र्रिकॉडिंग को सिरियल के रूप में न्यूज चैनल ज़ी बिहार झारखंड एवं सोनी इंटरटेंमेंट टीवी पर किया जाएगा। हजारों का संख्या में बच्चे सेमिनार में शामिल हो कर सफलता की कला को सीखगें।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Education

भारत में लड़कों से ज्‍यादा पढ़ी लिखी हो जायेंगी लड़कियां

Published

on

भारत में लड़कों से ज्‍यादा पढ़ी लिखी हो जायेगी लड़कियां

देश में सुधर रही महिलाओं की हालात

अगर महिलाओं की शिक्षा का स्तर इसी तेजी से बढ़ता रहा तो आने वाले समय में देश में सबसे अधिक शिक्षित बेटियां होंगी। या यूं कहे तो अब देश में लड़कों से ज्यादा पढ़ी लिखी बेटियां होंगी। आंकड़ों पर नजर डालें तो देश में लगभग 30 करोड़ छात्र-छात्राएं हैं जिसमें 48 फीसदी पर लड़कियों ने कब्जा जमा लिया है।

भारत में फिलहाल महिलाओं की स्थिति चिंताजनक है, लेकिन उच्च शिक्षा में बढ़ते आंकड़े बता रहे हैं कि आने वाला समय लड़कियों का बोलबाला होगा। देश में कामकाजी महिलाएं 27 फीसदी हैं जबकि संसद में महिलाओं की भागीदारी 11 फीसदी और राज्य विधानसभा में महज 8.8 फीसदी है। वहीं 500 बड़ी लिस्टेड कंपनियों में 17 कंपनियों की सीईओ महिला हैं।

शिक्षा के क्षेत्र में जिस तेजी से लड़कियां आ रही हैं वह दिन दूर नहीं जब बेटियां देश में अलख जगाने का काम करेंगी। बात करें स्कूल कॉलेज की या फिर एजूकेशनल इंस्टीट्यूशन में एडमिशन की पिछले कुछ सालों में लड़कियों का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। महज 50 सालों में शिक्षा के क्षेत्र में लड़कियों ने बाजी मारी है। 1950-51 में जहां 25 फीसदी लड़कियां ही उच्च शिक्षा के लिए जा पा रही थीं वह 40  वर्षों में 39 फीसदी और 50 वर्षों में 42 फीसदी के आंकड़े को पार कर गई हैं। यानी उच्च शिक्षा के मामले में लड़कियां बाजी मार ली है।

विकासशील और विकसित देशों की बात करें तो भारत तेजी से बढ़ता हुआ देश बन गया है। यूरोपीय संघ के देशों में 54 फीसदी लड़कियां उच्च शिक्षित हैं जबकि अमेरिका में डिग्री धारक लड़कियों की संख्या 55 और चीन की लगभग 54 फीसदी है।

Continue Reading

Education

बिहार : मैट्रिक सप्‍लीमेंट्री का रिजल्‍ट घोषित, कर सकते हैं स्‍क्रूटनी के लिए आवेदन

Published

on

बिहार : मैट्रिक सप्‍लीमेंट्री का रिजल्‍ट घोषित, कर सकते हैं स्‍क्रूटनी के लिए आवेदन

पटना। बिहार बोर्ड ने बुधवार को मैट्रिक के सप्लीमेंट्री यानी कि कंपार्टमेंटल परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिये। सप्लीमेंट्री परीक्षा में शामिल परीक्षार्थी बिहार बोर्ड की आधिकारीक वेबसाइट  www।bsebbihar।com  और  www।biharboard।ac।in  पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। बता दें कि सप्लीमेंट्री परीक्षा में 234244 परीक्षार्थियों ने हिस्सा लिया था।

कैसे देखें BSEB 10th compartment Result 2017 रिजल्ट-

  • रिजल्ट देखने के लिए सबसे पहले बिहार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www।biharboard।ac।in पर जाएं।
  • उसके बाद होमपेज पर रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करें।
  • उसके बाद अपना रोल नंबर, नाम और जन्मतिथि दें
  • उसके बाद रिजल्ट ढूंढे
  • अंत में रिजल्ट आपके सामने होगा।

कंपार्टमेंटल में मिलेगा स्क्रूटनी का मौका, 28 से करें आवेदन

सीबीएसई की तरह बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने भी इंटरमीडिएट और मैट्रिक के कंपार्टमेंटल परीक्षार्थी को स्क्रूटनी करने का मौका दिया है। जिन परीक्षार्थियों को अपने अंक पर दावा करना हो, वो स्क्रूटनी के लिए समिति के पास आवेदन दे सकते हैं। आवेदन के लिए परीक्षार्थियों को 28 अगस्त से एक सितंबर के बीच का समय दिया गया है।

मैट्रिक के लिए समिति की वेबसाइट www।bsebbihar।com और इंटरमीडिएट के लिए www।srsec।bsebbihar।com पर आवेदन कर सकते हैं। समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि पहली बार बिहार बोर्ड ने कंपार्टमेंटल परीक्षार्थियों को स्क्रूटनी का मौका दिया है। इसका फायदा विशेष परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों को मिलेगा। स्क्रूटनी आवेदन के लिए प्रति विषय 70 रुपये फीस देनी होगी। समिति के अनुसार स्क्रूटनी का रिजल्ट सितंबर के अंतिम सप्ताह तक मिल जायेगा।

 

Continue Reading

Education

दिल्‍ली के 449 प्राइवेट स्‍कूलों का ‘टेकओवर’ केजरीवाल सरकार को, LG ने दी मंजूरी

Published

on

दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार राजधानी के 449 प्राइवेट स्‍कूलों का टेकओवर करने जा रही है. आप सरकार के इस प्रस्‍ताव को दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल अनिल बैजल ने मंजूरी भी दे दी है.  ऐसे में अभिभावकों से वसूली गई फीस न लौटाने पर अब दिल्‍ली सरकार इन स्‍कूलों पर कार्रवाई कर सकेगी.

एलजी बैजल ने मंजूरी देते हुए कहा कि दिल्‍ली सरकार का यह अच्‍छा फैसला है. इससे छात्रों का भविष्‍य बेहतर बनेगा. वहीं उन बच्‍चों को भी इन स्‍कूलों में पढ़ने का मौका मिलेगा जो फीस ज्‍यादा होने के कारण इन स्‍कूलों में शिक्षा नहीं ले पा रहे थे.

गौरतलब है कि दिल्‍ली के 449 निजी स्‍कूलों पर मनमानी फीस वसूलने का आरोप था. शिक्षा निदेशालय के निर्देश के बाद भी उन्होंने स्कूली बच्चों के परिजनों से ली गयी फीस वापस नहीं की थी.

इन स्कूलों में डीपीएस, स्प्रिंग डेल, संस्कृति स्कूल, एमिटी इंटरनेशनल स्कूल समेत माडर्न पब्लिक स्कूल भी शामिल हैं. वहीं हाईकोर्ट में भी इसको लेकर याचिका डाली गई है.

Continue Reading
Advertisement

Polls

Online Shopping में Best Deal किसका ?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

Advertisement

Trending