Connect with us

India

दुर्गा पूजा नवरात्र 2017 | नवरात्र पूजा विधि | दुर्गा पूजा कैसे करें | दुर्गा पूजा टाइम टेबल

Published

on

दुर्गा पूजा नवरात्र 2017 | नवरात्र पूजा विधि | दुर्गा पूजा कैसे करें | दुर्गा पूजा टाइम टेबल

कलश स्थापना की शुभ मुहूर्त :- 21 सितंबर – कलश स्थापना की शुभ मुहूर्त :- 21 सितंबर  2017 –  गुरूवार

आगमण- डोला -फल अशुभ

ब्रह्म मुहूर्त – सुबह – 3 :00 से 10 :00  तक , पूरा दिन

—————

शुभ  चोघडिया –

सभी के लिए-    शुभ  –     सुबह    से      7:46 – तक

व्यापारियो के लिए-  लाभ –   12:20 से 1:52   -तक

कारपोरेट के लिऐ -अमृत –    1:52   से  3:23      -तक

साधको के लिए  – काल  –  शाम-   3:23  से 4:55   – तक

सर्वजन के लिऐ – शुभ  – शाम   4:55   से  6:24     -तक

—————-

अभिजित  मुहूर्त- दोपहर -11:36 से 12 :24

नोट  प्रतिपदा    गुरूवार  सुबह  -10:00 तक,  हस्ता नक्षत्र गुरू वार रात 12: 11 तक है ,शुक्ल  योग  दिन  11 :02  तक है ,

—————————————–

कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त –

ब्रह्म मुहूर्त प्रात: 3: 00 से 6 : 15 बजे तक ,

अमृत – सुबह 6:00 से 8 :24 तक ,

प्रथम बेला  :- 8:24 से 10:15 तक

अभिजित – दोपहर -11:36 से 12:24 तक

———————-

।। पूजा पण्डालो की नवरात्र पूजन कार्यक्रम ।।

—————————

शारदीय नवरात्रि 2017  – कार्यक्रम 10 दिन का नवरात्रि है।

—————

21 सितंबर  – गुरूवार –

प्रतिपदा – कलश स्थापना- सुबह 6:30  ,  ध्वजारोपन , दिन भर , – शैल पुत्री पूजन , सुबह आरती – 9 :00 //  शाम आरती 8 :00 ( महाराजा अग्रसेन जयन्ती )

———————————

22 सितंबर शुक्रवार  – द्वितीया

( ब्रह्म चारिणी पूजन )- मुहर्रम 1-1439 शुरू

—————————

23 सितंबर  शनि  वार – तृतीया  –

( सुबह 19 :50 तक )चन्द्रघन्टा पूजन

। सुबह आरती – 9 :00 //  शाम आरती 8 :00

———————————

24 सितंबर रविवार- – चतुर्थी

(दिन 011:46 तक )

कुष्माण्डा पूजन

सुबह आरती – 9 :00 //  शाम आरती 8:00

——————————–

25 सितम्बर- सोमवार  – पँचमी

( दिन 01:30  तक)

कात्यायनी पूजन  ।

————————–

26 सितंबर मगलवार – महाषष्ठी-

(  दिन 03:20 तक  ,कालरात्रि पूजन ।

सुबह आरती  दिन 09:00,।शाम आरती 8:00

बेलवरण शाम – 5:50 बजे से

आगमन-  घोडा पर – अशुभ फल

—————————————

27 सितंबर बुधवार  – महासप्तमी

(  शाम  5 :26 तक )

ज्येष्ठा  दिन – 09 :42 तक )

नवपत्रिका प्रवेश सुबह – 7 :00 से

सभी प्रतिमा का प्राण प्रतिष्ठा होगी

,आरती *पुष्पाजलि शाम 12 :00 /  शाम आरती 8:00 ।

सांस्कृतिक कार्यक्रम-

———————————

28 सितम्बर गुरुवार – महाअष्टमी –

( रात -07 :26  तक )

महाअष्टमी पूजा  -सन्धिपूजा  बलि – शाम – 7 :26 मे

(मूल- दिन -12:17 तक)

दोपहर –  आरती- पुष्पाँजलि – दोपहर- 11:00   , शाम आरती पुष्पाजलि – 8:00

सांस्कृतिक कार्यक्रम-

————————————-

29 सितंबर शुक्रवार  – महानवमी-

(  रात  -9 :23 तक ,  पूर्षाषाढ दिन 2:47 तक )

सिद्धिदात्री पूजन

आरती *पुष्पाजलि :-सुबह  11 :00// आरती *पुष्पाजलि  शाम – 8:00 ।।महाभोग वितरण- दोपहर 11:00 बजे

साँस्कृतिक कार्यक्रम रात

30 सितम्बर शनिवार  – विजया दशमी

विजयादशमी – रात  11:00  तक

उतराषाढ-  शाम  -05: 0 3 तक

विसर्जन-हवन – 10:00 से 11:30 तक

पुष्पाजँलि  आरती – सुबह – 11:40

नवरात्रि का पारण । विसर्जन

देवी प्रस्थान – पैदल पाँव – फल  विकल

@ पँण्डित रामदेव पाण्डेय – राँची – 9471195560 / 8877003232 whatsapp

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

India

भारत का हर गांव-शहर 24 घंटे होगा जगमग, ऐसा है पीएम मोदी का ‘सौभाग्‍य’ योजना

Published

on

भारत का हर गांव-शहर 24 घंटे होगा जगमग, ऐसा है पीएम मोदी का ‘सौभाग्‍य’ योजना

उज्‍जवला योजना की तरह ही है पीएम का ‘सौभाग्‍य’ योजना

नई दिल्ली। देश के बिजली क्षेत्र में अभी तक की सबसे महत्वाकांक्षी योजना केंद्र सरकार ने लांच की है जिसके तहत दिसंबर, 2018 तक हर घर को बिजली कनेक्शन से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को यहां एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना “सौभाग्य” को लांच किया। गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले हर परिवार को इसके तहत मुफ्त में बिजली कनेक्शन मिलेगा।

जानिए क्‍या है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘सौभाग्‍य’ योजना

प्रधानमंत्री ने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत चार करोड़ घरों को बिजली दी जाएगी। इस पर कुल 16,320 करोड़ रुपये की लागत आएगी जिसका बड़ा हिस्सा (12,320 करोड़ रुपये) केंद्रीय बजट से दिया जाएगा।

योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र पर खास ध्यान होगा क्योंकि 90 फीसद बिना बिजली वाले घर गांवों में ही हैं। उक्त आवंटन का 14,025 करोड़ रुपये ग्र्रामीण विद्युतीकरण के लिए दिया जाएगा।

सरकार के वर्ष 2011 के सामाजिक, आर्थिक और जातिगत जनगणना के आधार पर यह स्कीम लागू की जाएगी। इस जनगणना में आने वाले सभी परिवारों को मुफ्त बिजली दी जाएगी। लेकिन इसके अलावा जो अन्य परिवार बिजली कनेक्शन लेना चाहेंगे उन्हें महज 500 रुपये देने पर बिजली कनेक्शन मिल जाएगा।

इसका भुगतान भी उन्हें मासिक किस्त में देने की सुविधा मिलेगी। जहां सामान्य बिजली कनेक्शन नहीं होगी मसलन दूरदराज के गांवों के घरों को सौर बिजली का कनेक्शन दिया जाएगा।

इन घरों को पांच एलईडी बल्ब, एक डीसी फैन और एक पावर प्लग को चलाने वाला सौर बैट्री बैंक दिया जाएगा। सौभाग्य लांच करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “अभी तक किसी ने सोचा नहीं था कि एक सरकार ऐसी भी आएगी जो लोगों के घर-घर जा कर बिजली कनेक्शन देगी।”

दरअसल, इस योजना के तहत बिजली वितरण कंपनियों के अधिकारी स्वयं सरकारी डाटा के हिसाब से उन घरों में जाएंगे जहां बिजली कनेक्शन नहीं है और घर के मुखिया के आधार कार्ड को देख कर बिजली कनेक्शन हाथों हाथ देंगे।

ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने इस अवसर पर बताया कि दिसंबर, 2017 तक हर गांव को बिजली मिल जाएगी और उसके एक वर्ष बाद यानी दिसंबर, 2018 तक हर घर को बिजली देने का लक्ष्य हासिल पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद हर घर को चौबीसों घंटे, स्थायी बिजली देने का काम बचेगा जिसे पूरा किया जाएगा।

उज्ज्वला से प्रभावित सौभाग्य

माना जा रहा है कि हाल ही में जिस तरह से पांच राज्यों के चुनावों में भाजपा को मिली सफलता के लिए पेट्रोलियम मंत्रालय की उज्ज्वला योजना को एक अहम कारण माना जा रहा है उससे प्रभावित हो कर ही “सौभाग्य” को लांच किया गया है।

आगामी चुनाव में उक्त दोनों योजनाओं की सफलता सरकार के कामकाज का अहम उदाहरण होंगी। उज्ज्वला से जहां हर गरीब के घर में एलपीजी से खाना पकेगा, वहीं सौभाग्य से हर घर को रौशनी मिल सकेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने सौभाग्य योजना की लांचिंग पेट्रोलियम क्षेत्र की सरकारी कंपनी ओएनजीसी के नए भवन से की। इस अवर पर पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी उपस्थित थे।

बिजली का चूल्हा होगा अगला कदम

हर घर को बिजली देने की योजना लांच करने के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेट्रोलियम मंत्रालय की कंपनी ओएनजीसी को एक नई जिम्मेदारी सौंप दी है। उन्होंने ओएनजीसी से कहा है कि वह देश भर में बिजली से चलने वाले चूल्हे के निर्माण को लेकर एक राष्ट्रीय प्रतियोगिता का आयोजन करे।

इसका मकसद यह होना चाहिए कि किस तरह से बिजली से चलने वाला ऐसा चूल्हा तैयार किया जा सके जिस पर हर तरह के पकवान बन सकें। उन्होंने कहा कि ओएनजीसी आसानी से 100 करोड़ रुपये इस पर खर्च कर सकती है।

आरके सिंह ने की योजना की जानकारी दी

दीनदयाल विद्युत योजना के लिए हुए कार्यक्रम में राज्य मंत्री आरके सिंह ने की योजना की संक्षिप्त रूपरेखा को बताया। उन्होंने कहा कि प्रधानमत्री के संकल्प के अनुसार हम हर घर को बिजली उपलब्ध करेंगे।

हम दिसंबर 2018 तक प्रत्येक घर को रोशन करेंगे। इसमें सौर उर्जा तथा जल विद्युत उर्जा को भी शामिल करेंगे। इसमें हम चौबीस घंटे बिजली प्रदान करने के लिए संकल्पित हैं।

इसमें एक टोल फ्री नंबर होगा जिससे शिकायत कर सकेंगे तथा एक टीम होगी जो कि शिकायतों पर नजर रख उसे हल करेगी। इसमें स्मार्ट मीटर लगे होंगे जिससे लोग ऑनलाइन पेमेंट भी कर सकेंगे।

Continue Reading

India

भारत सरकार ने 115 ट्विटर हैंडल को ब्‍लॉक करने का जारी किया निर्देश

Published

on

भारत सरकार ने 115 ट्विटर हैंडल को ब्‍लॉक करने का जारी किया निर्देश

भारत सरकार ने ट्विटर को 115 ट्विटर अकाउंट को ब्‍लैक लिस्‍टेड किया है, जिन्‍हे ब्‍लॉक करने का निर्देश दिया गया है। केंद्र सरकार ने इन ट्विटर हैंडल के जरिए विश्वसनीय सूचनाएं पब्लिक करने के लिए चेतावनी दी है। भारत सरकार का मानना है कि माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर से इन 115 ट्विटर अकाउंट के जरिये एंटी इंडिया और सांप्रदायिक भावनाएं भड़काने वाले बातें प्रसारित की जाती हैं, इसलिए इन सभी 115 ट्विटर हैंडल को ब्लॉक करने को कहा गया है। ये सभी हैंडल कश्मीर के बताये गये हैं।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक ट्विटर शासकीय सूचनाओं को सार्वजनिक कर रहा था। जो नियमों का उल्लंघन है। सरकार ने ट्विटर को चेतावनी देते हुए इन हैंडल को ब्लॉक करने के लिए कहा है। सरकार ने ट्विटर से साइट पर मौजूद इस तरह की सभी जानकारी को हटाने के लिए भी कहा है।

जम्मू और कश्मीर सरकार ने इन ट्विटर हैंडल को चिन्हित किया था और केंद्र सरकार से इस बारे में एक्शन लेने के लिए कहा था। सरकार ने 24 अगस्त को ट्विटर को इस बारे में निर्देश जारी किया।

Continue Reading

India

राहुल गांधी का आज से मिशन गुजरात शुरू, चुनाव प्रचार का फुंकेंगे बिगुल

Published

on

राहुल गांधी का आज से मिशन गुजरात शुरू, चुनाव प्रचार का फुंकेंगे बिगुल

अहमदाबाद।  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार से तीन दिनों के लिए गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र का दौरा करेंगे। वो द्वारका में भगवान कृष्ण के मंदिर में प्रार्थना करने के साथ ही अपने दौरे की शुरुआत करेंगे। वह द्वारका में भगवान कृष्ण के मंदिर में प्रार्थना करने के साथ ही अपने दौरे की शुरुआत करेंगे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल ने बताया कि देवभूमि द्वारका जिले के मीठापुर हवाई पट्टी पर उतरने के बाद वह भगवान कृष्ण के मंदिर में जाएंगे। उन्होंने बताया कि मंदिर में पूजा करने के बाद गुजरात में पार्टी के चुनाव प्रचार के तहत वह सड़क मार्ग से सौराष्ट्र क्षेत्र का दौरा करेंगे।

ये है राहुल गांधी का पूरा शेड्यूल

-राहुल गांधी अपने तीन दिवसीय रोड शो की शुरुआत द्वारका से करेंगे। वह विभिन्न स्थानों पर लोगों को संबोधित करेंगे और रास्ते में उनसे वार्ता करेंगे।”

-जामनगर शहर जाएंगे जहां वह रात्रि विश्राम करेंगे।

-26 सितंबर को वह धरोल और टंकारा शहरों से होते हुए राजकोट पहुंचेंगे।

-दोपहर में राजकोट पहुंचने पर वह व्यवसायियों और उद्योगपतियों से बातचीत करेंगे।

-राजकोट में रात्रि विश्राम करेंगे।

-27 सितंबर की सुबह वह चोटिला, जसदान, वीरपुर, जेतपुर और अन्य शहरों का दौरा करेंगे और फिर खोडलधाम में अपना प्रचार अभियान समाप्त करेंगे।”

पार्टी सूत्रों के मुताबिक सौराष्ट्र दौरे के बाद वह उत्तर, मध्य और दक्षिण गुजरात में पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करेंगे जिसके लिए तारीखों का एलान बाद में किया जाएगा। गुजरात में इस वर्ष के अंत तक विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

Continue Reading
Advertisement

Polls

Online Shopping में Best Deal किसका ?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

Advertisement

Trending