Connect with us

Jharkhand News

झारखंड: ग्रेजुएशन की परीक्षा कॉलेज की सीढ़ियों, छत और बरामदे के फर्श पर

परीक्षा लिखने का ये नजारा पिछले कुछ सालों में बिहार के कुछ जिलों में लिखता था, और तब वहां के एजुकेशन सिस्‍टम की खूब खिंचाई हुई थी। अब वैसा ही तस्‍वीर झारखंड में भी दिख रही है।

Published

on

ग्रेजुएशन की परीक्षा कॉलेज की सीढ़ियों, छत और बरामदे के फर्श पर

वीडियो रिपोर्ट: आशीष प्रमाणिक

बुंडू। परीक्षा लिखने का ये नजारा पिछले कुछ सालों में बिहार के कुछ जिलों में लिखता था, और तब वहां के एजुकेशन सिस्‍टम की खूब खिंचाई हुई थी। अब वैसा ही तस्‍वीर झारखंड में भी दिख रही है। ये हैरान करने वाली तस्‍वीर झारखंड के एक पुराने कॉलेज की है, जहां कई स्‍टूडेंट सीढियों पर बैठकर परीक्षा लिख रहे हैं, तो कई क्‍लासरूम में जमीन पर बैठकर परीक्षा लिख रहे हैं। यहां तक कि छात्रों को कॉलेज की छत पर भी बैठाया गया है।

पीपीके कॉलेज में सामने आया बिगड़ते एजुकेशन सिस्‍टम का सच

पीपीके कॉलेज बुंडू में गुरुवार को पहली पाली में  पार्ट 2 के परीक्षार्थी परीक्षा लिखे। दूसरी पाली मे पार्ट 1 के 2400 विद्यार्थी परीक्षा लिखने पहुंचे। जगह नहीं मिलने पर छात्र-छात्रओं को कॉलेज की सीढ़ी, बरामदे, हॉस्टेल के भवन, और कुछ परीक्षार्थियों को छत के उपर बैठाया गया।

पीपीके कॉलेज की भवन जर्जर हालत में

हालात यह है कि जर्जर भवन को मरम्मत भी नहीं कराया जा रहा है। दूसरी ओर भवन पूरी तरह जर्जर के कारण नये भवन निर्माण की अतिआवश्यक है। लेकिन रांची वीसी इस कॉलेज की ओर आंख बंद कर दी है। इस तरह परीक्षा के समय परीक्षार्थी कई परेशानियां से जुझते हुए परीक्षा दे रहे हैं।

जर्जर छत से पानी टपकने से परीक्षार्थियों की कॉपियां भीगी

कॉलेज का भवन पूरी तरह जर्जर होने के कारण कुछ परीक्षार्थी के कॉपी में बारिश की पानी गिरने से उनके कॉपी भींग गयी।

वर्तमान कॉलेज के फंड में करीब 2 करोड़ राशि है। कई वर्षों से कॉलेज के फंड में पड़ा हुआ है। राशि का उपयोग करने में बुंडू कॉलेज के प्रिसिंपल जयराम महतो के मुताबिक रांची वीसी वेन लगा दिया है।

कॉलेज के पहला तल्ले छत को प्रिसिपल ने तोड़ने का आदेश दिया

कॉलेज के पहला तल्ले छत को प्रिसिपल जयराम महतो ने तोड़ने का आदेश दिया है। प्रिंसिपल मजदूर लगवाकर तोड़वा रहा है। प्रिसिपल ने बताया कि कई वर्ष से पहला तल्ले का छत जर्जर होकर रोजाना पलास्टर झड़ रहा था। कई लोग घायल भी हुई हैं। इसको देखते हुए तोड़ा जा रहा है। कॉलेज मरम्मती मामले पर कहा कि रांची वीसी के आदेश के बाद मरम्मत कार्य कराया जा सकता है। लेकिन मरम्मती कार्य होगा निश्चित नहीं है।

Continue Reading
Advertisement

Jharkhand News

वीडियो : पटाखा फैक्‍ट्री में धमाके की चपेट में आये 12 मकान, 13 लोगों की मौत दर्जनों घायल

Published

on

वीडियो : पटाखा फैक्‍ट्री में धमाके की चपेट में आये 12 मकान, 13 लोगों की मौत दर्जनों घायल

पटाखे के बारूद के धमाके से ध्‍वस्‍त हो गया तीन मंजिला मकान

रांची। बहरागोड़ा प्रखंड के बरसोत थाना क्षेत्र के कुमारडुबी गांव में रविवार को एक पटाखा फैक्‍ट्री में आग लगने से 13 लोगों की मौत की खबर है। मरने वालों का आंकड़ा बढ़ सकता है। इस घटना के बारे में अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। जानकारी के अनुसार एक तीन मंजिला आवासीय मकान में यहां पटाखे बनाने के लिए अवैध रूप से बारूद रखा गया था। जिसमें शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई। एक घर से होते हुए 12 घरों को आग ने अपनी चपेट में ले लिया।

अभी मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है। आग इतनी भयावह है कि घटनास्थल पर फायर बिग्रेड को काफी मशक्कत करनी पड़ी। हांलाकि प्रशासन ने इन मौतों की की पुष्टि के लिए आधिकारिक बयान का इंतजार है।

रविवार होने की वजह से यहां साप्ताहिक बाजार लगा हुआ था। जिस घर में बारूद रखा हुआ था, वो दुर्गा सतारा नाम के शख्स का था। वो अवैध रूप से पटाखे बनाने का काम करता था। इन पटाखों की सप्लाई वो आसपास के क्षेत्र में करता था। उसने घर में ही अवैध रूप से बारूद जमा करके रखा।

जानकारी के अनुसार शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी और बारूद तक जा पहुंची। इसके बाद लगातार विस्फोट होता रहा है और आग का दायर 12 घरों तक बढ़ गया।

दुर्गा सतारा के घर का आधा हिस्सा टूट कर गिर गया, जिससे एक महिला समेत पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। दुर्गा सतारा के घर के नीचे एक कपड़े की दुकान थी, जिसमें कुछ लोगों के दबे होने की आशंका है।

मौके पर पहुंचे विधायक व पूर्व मंत्री : घटना की जानकारी मिलने पर बहरागोड़ा विधायक कुणाल षाड़ंगी और उनके पिता सह पूर्व मंत्री डॉ. दिनेश षाड़ंगी कुमारडुबी गांव पहुंचे। गांव पहुंचते ही दोनों पीड़ितों को राहत पहुंचने में जुट गए।

घटना स्‍थल पर मौके पर भारी संख्या में पुलिस-प्रशासन के आलाधिकारी पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए है। यहां पर राहत और बचाव कार्य जारी है।

Continue Reading

Jharkhand News

रघुवर सरकार के 1000 दिन : सीएम ने रांची के पत्रकारों को दिया शानदार तोहफा

Published

on

प्रेस क्लब देश का सबसे बेहतर संस्था बने : रघुवर दास

रांची। रघुवर सरकार के 1000 दिन पूरे होने के मौके पर रांची के पत्रकारों को झारखंड सरकार ने प्रेस क्‍लब रांची के भव्‍य भवन के रूप में शानदार तोहफा दिया है, जिसका विधिवत उद्घाटन स्‍वयं सीएम रघुवर दास ने किया। इस मौके पर नगर विकास मंत्री सीपी सिंह व मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार के साथ शहर के सभी पत्रकार छायाकार और संपादक मौजूद थे।

प्रेस क्‍लब रांची के इस उद्घाटन कार्यक्रम के अवसर पर मुख्‍यमंत्री रघुवर दास ने पत्रकारों के लिए सौगात के तौर पर कई घोषणायें भी की। राजधानी रांची में पत्रकारों के लिए पेंशन योजना भी केरल की तर्ज से आज से लागू की जायेगी। प्रेस क्लब में लाइब्रेरी और जिम भी होगा। इसमें लाइब्रेरी के लिए मुख्यमंत्री  रघुवर दास मुख्यमंत्री विवेकानुदान अनुदान से तीन लाख रुपये और जिम के लिए रांची के विधायक सह मंत्री  सीपी सिंह सहायता करेंगे। उक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहीं।  मुख्‍यमंत्री ने कहा कि राज्य के अन्य प्रमंडलों में भी प्रेस क्लब के भवन बनाये जायेंगे। 15 नवंबर को देवघर और धनबाद के प्रेस क्लब के भवन का ऑनलाईन शिलान्यास होगा।

इस कार्यक्रम के दौरान रघुवर दास ने प्रेस क्लब के उद्घाटन पर सबको बधाई देते हुए कहा कि तीन माह तक प्रेस क्लब के सारे खर्च सरकार उठायेगी। इन तीन माह के बाद नये वर्ष की शुरुआत से प्रेस क्लब की जिम्मेदारी पत्रकारों को उठानी होगी। लाईब्रेरी बनाने का खर्च 3 लाख रुपये सरकारी फंड से दिया जाएगा। हेल्थ स्कीम में सभी पत्रकार जुड़ सकते हैं। झारखंड के पत्रकारों को पेंशन मिलेगा। साथ हीं पत्रकारों को गुटबाजी न करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि यह प्रेस क्लब देश का सबसे बेहतर संस्था बने। प्रेस क्लब सरकार के भरोसे नहीं रहनी चाहिए। प्रेस क्लब के पत्रकार सदस्यों के पैसे से चलेगी प्रेस क्लब। नये साल से सरकार कुछ मदद नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर और मार्गदर्शक मंडल बने प्रेस क्लब।

कार्यक्रम में शामिल मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार ने कहा कि यहां के पत्रकारों की मांग थी कि प्रेस क्लब बने, जिसका लोकप्रिय मुख्यमंत्री रघुवर दास जी ने इसे गंभीरता से लिया और दो सालों में बनने के वजाए 3 माह पहले ही बनकर तैयार हो गया।

कार्यक्रम में मौजूद नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि प्रेस क्लब का आज उदघाटन रघुवर जी के द्वारा किया गया जो हर्ष की बात है। उन्होंने कहा कि उनके मन में प्रेस के प्रति हमेशा श्रद्धा का भाव रहता है। साथ ही कहा कि झारखंड के दर्पण में प्रेस क्लब दीखे यह भाव लोगों में हमेशा रहे। इस प्रेस क्लब का उपयोग सही तरह से करने की बात सामने उन्होंने रखा। साथ हीं बताया कि प्रेस क्लब को मेंटेन रखना बड़ी बात होगी।

रांची के सांसद रामटहल चौधरी ने इस प्रेस क्लब के उद्घाटन पर सभी को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा इस प्रेस क्लब का मेंटेनेंस होना बहुत जरूरी है। पत्रकारों की इस मांग को उन्होंने जायज बताया।

मौके पर उपस्थित वरिष्ठ पत्रकार बलबीर दत्त ने आज के दिन को झारखंड के लिये महत्वपूर्ण बताया। प्रेसक्लब की पहले से जो मांग थी जो आज पूरा हुआ। उन्होंने प्रेस क्लब की बिल्डिंग को देश का सबसे शानदार बिल्डिंग बताया तथा कहा इस प्रेस क्लब में शराब पर अंकुश रहेगी। इस प्रेसक्लब में कई सुविधाएं रहेंगी। नये वर्ष में मेंबरशिप के बाद चुनाव कराया जाएगा। पत्रकारों की कोई समस्या हो तो इस प्रेस क्लब में बैठकर सुलझा सकेंगे।

Continue Reading

Jharkhand News

अमित शाह के दौरे के बाद सीएम रघुवर दास दिल्‍ली तलब, सोशल मीडिया पर चर्चा गरम

Published

on

अमित शाह के दौरे के बाद सीएम रघुवर दास दिल्‍ली तलब, सोशल मीडिया पर चर्चा गरम

रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास गुरुवार को दिल्ली दौरे पर रहेंगे। सीएम रघुवर दास सुबह 9 बजकर 25 मिनट पर रांची से दिल्ली के लिए रवाना हो जायेंगे।

दिल्‍ली में रघुवर दास दोपहर 12 बजे प्रधानमंत्री कार्यालय में पहुंचेंगे। यहां वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। पीएम मोदी से भेंट करने के बाद गुरुवार को ही शाम 6 बजे दिल्ली से रांची लौट आयेंगे।

जानकारी के मुताबिक अमित शाह के झारखंड दौरे से लौटने के बाद मुख्यमंत्री रघुवर दास को अचानक दिल्ली तलब किया गया है। सीएम का दिल्ली दौरा ने राजनीतिक गलियारों की बेचैनी बढ़ा दी है। साथ ही साथ कई सवाल भी खड़े कर रहा है।

अमित शाह ने अपने झारखंड प्रवास के दौरान में तीन दिनों तक संगठन से संबंधित पूरी जानकारी ली है। ज्यादातर पदाधिकारियों ने फिडबैक दिया है कि संगठन के कामकाज में सरकार (मुख्यमंत्री) का ज्यादा हस्तक्षेप रहता है। अन्य कई मुद्दों पर भी शाह झारखंड से नाराज होकर गये हैं। संभावना जतायी जा रही है कि सीएम का यह दौरा झारखंड की सियासी हलचल बढ़ा सकती है।

 

 

Continue Reading
Advertisement

Polls

Online Shopping में Best Deal किसका ?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

Advertisement

Trending