Connect with us

others

गोल्‍डन एथलीट प्रियंका पवार पर लगा 8 साल का प्रतिबंध

Published

on

गोल्‍ड जीतने वाले एथलीट प्रियंका पवार पर लगा 8 साल का प्रतिबंध

महिला एथलीट प्रियंका पवार पर पूरे 8 साल के लिए बैन लगा दिया गया है। प्रियंका पवार डोप टेस्‍ट में फेल हो गई हैं। एशियाई खेल-2014 में महिला रिले में गोल्ड मेडल जीतने वाली प्रियंका पवार को हैदराबाद में इंटर-स्टेट एथलेटिक्स चैंपियनशिप में प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन का दोषी पाया गया था। यह चैंपियनशिप पिछले साल 28 जून से दो जुलाई के बीच खेली गई थी। तब से उन पर अस्थायी प्रतिबंध था।

प्रियंका को रियो ओलिंपिक-2106 में चार गुणा 400 मीटर रिले में चुना गया था, लेकिन बाद में उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था। उनकी जगह अश्विनी अकुंजी को टीम में शामिल किया गया था। नाम न बताने की शर्त पर सूत्र ने कहा कि राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) ने उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए अपना फैसला सुनाया है।

नाडा के नियम के अनुसार अगर खिलाड़ी दो बार डोपिंग में पकड़ा जाता है, तो उस पर आठ साल से लेकर अजीवन प्रतिबंध भी लगाया जा सकता है। खिलाड़ी के राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय पदक तत्काल प्रभाव से जब्त कर लिए जाते हैं।

प्रियंका इससे पहले 2011 में भी डोप टेस्ट में असफल रही थीं। दो साल के प्रतिबंध के बाद वह 2013 में वापस आई थीं। उन्हें राष्ट्रीय शिविर में भी जगह मिली थी और इंचोन में खेले गए एशियाई खेलों में भी शामिल किया गया था।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

others

पीवी सिंधु ने पीएम मोदी को किया समर्पित की अपनी जीत

Published

on

पीवी सिंधु ने पीएम मोदी को किया समर्पित की अपनी जीत

बेहतरीन फॉर्म में चल रही भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु ने रविवार को कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट जीतकर नया इतिहास रचा। जापान की नोजोमी ओकुहारा से विश्व चैम्पियनशिप में मिली हार का बदला लेकर सिंधु कोरिया ओपन जीतने वाली पहला भारतीय खिलाड़ी बन गईं।महिला एकल वर्ग में एक घंटे 24 मिनट तक चले मैच में सिंधु ने ओकुहारा को 22-20, 11-21, 21-18 से मात देकर जीत हासिल की।

सिंधु के लिए हालांकि, यह जीत आसान नहीं थी। इस मैच में आक्रामक नजर आईं ओकुहारा के आगे कई बार सिंधु को घुटनों के बल आते देखा गया। सिंधु ने अपनी जीत प्रधानमंत्री मोदी समर्पित की है। रविवार को पीएम मोदी का 67वां जन्मदिन था।

ट्विटर यूजर्स ने उनके इस ट्वीट को काफी पसंद किया हालांकि कुछ यूजर्स ने उनके फैसले की आलोचना भी की। उनके नाम के वी को विक्ट्री यानी जीत से जोड़कर भी ट्वीट किए गए।


इससे पहले मैच स सिंधु से कद में छोटी लेकिन फुर्ती में आगे ओकुहारा ने भारतीय खिलाड़ी को पछाड़ने का कोई मौका नहीं छोड़ रही थीं। कई बार वह उन पर भारी पड़ती नजर आईं, लेकिन सिंधु ने भी इस बार जापानी खिलाड़ी को हराने का फैसला किया था और वह ओकुहारा के खिलाफ किसी भी हालत में अपनी हार को दोहराना नहीं चाहती थीं। पहले गेम में सिंधु ने ओकुहारा को 22-20 से हराया, वहीं दूसरे गेम में वह ओकुहारा के आगे कमजोर नजर आईं और 11-21 से पिछड़ गईं। तीसरा गेम दोनों के बीच अहम था, क्योंकि यह खिताबी जीत का फैसला करने वाला था।

तीसरे गेम में सिंधु ने अपनी सारी ऊर्जा और ताकत को झोंकते हुए किसी तरह ओकुहारा को पछाड़ने में सफलता हासिल की। इस गेम के दौरान एक समय पर सिंधु मैट पर लगभग थक कर लेट गईं, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानने की ठानी थी और इसलिए, वह फिर से उठी और उन्होंने तीसरा सेट 21-18 से जीतकर ओकुहारा को मात दी।उल्लेखनीय है कि इस साल विश्व चैम्पियशिप के फाइनल में ओकुहारा ने सिंधु को मात देकर स्वर्ण पदक जीता था और भारतीय खिलाड़ी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा था। अब सिंधु ने अपना बदला पूरा करते हुए न केवल कोरिया ओपन का खिताब जीता, बल्कि ओकुहारा के खिलाफ खेले गए मुकाबलों का आंकड़ा भी 4-4 से बराबर कर लिया। सिंधु का यह दूसरा सुपर सीरीज खिताब है। इससे पहले, उन्होंने स्पेन की कैरोलीना मारिन को मात देकर इंडिया ओपन का खिताब जीता था।

Continue Reading
Advertisement

Polls

Online Shopping में Best Deal किसका ?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

Advertisement

Trending