Connect with us

Cricket

कप्‍तान मिताली राज हॉट ड्रेस को लेकर सोशल मीडिया पर हुई ट्रोल

Published

on

कप्‍तान मिताली राज हॉट ड्रेस को लेकर सोशल मीडिया पर हुई ट्रोल

फैंस को पसंद नहीं आया मिताली राज का बोल्‍ड अवतार

हाल ही में भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज को एक बार फिर ट्विटर पर ट्रोल किया गया। इस बार ट्रोलिंग की वजह बनीं उनकी एक ड्रेस, जिसमें वो बेहद हॉट लग रही थीं। दरअसल, बुधवार को मिताली ने ट्विटर पर अपने फ्रेंड्स के साथ एक सेल्फी शेयर की थी। जिसमें उन्होंने ब्लैक कलर की ट्यूब टॉप पहनी थी। हालांकि, इस फोटो में कुछ भी वल्गर नहीं था, लेकिन उनके कुछ फैंस को मिताली का ये बोल्ड अवतार पसंद नहीं आया। दूसरी तरफ कुछ फैंस ने मिताली को सपोर्ट भी किया है।

क्या लिखा फैंस ने…

कुछ यूजर्स ने मिताली की ड्रेस को बोल्ड बताते हुए आपत्ति जाहिर की और उन्हें ऐसे कपड़े ना पहनने की सलाह दी।  एक यूजर ने लिखा, आप लोगों की प्रेरणा हैं पर आपका ड्रेसिंग सेंस ऐसा नहीं लगता। इस फोटो को डिलीट कीजिए। इससे पहले भी मिताली राज ट्विटर पर ट्रोल हो चुकी हैं। लेकिन उस वक्त उन्होंने उस यूजर्स को करारा जवाब दिया था। अब लोगों को इस ट्रोलिंग पर भी मिताली के जवाब का इंतजार है।

बता दें कि मिताली राज की कप्तानी में भारतीय टीम ने हाल ही में खत्म हुई महिला वर्ल्ड कप में फाइनल तक का सफर तय किया था। इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन को लेकर उनका कंपेयर सचिन के साथ किया जाने लगा था। वह महिला वनडे क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी हैं। उन्होंने इंग्लैंड की पूर्व कप्तान चार्लोट का रिकॉर्ड तोड़ा था।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Cricket

वीडियो : चमत्‍कार से कम नहीं था मनीष पांडे का अद्भूत कैच, देखकर हैरान रह गये दर्शक

Published

on

वीडियो : चमत्‍कार से कम नहीं था मनीष पांडे का अद्भूत कैच, देखकर हैरान रह गये दर्शक

मनीष पांडे के कैच का सोशल मीडिया में हर तरफ हो रही है चर्चा

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी मौजूदा 5 मैचों की सीरीज़ भारत ने 3-0 से बढ़त बनाकर अपने नाम कर ली। इस जीत में टीम इंडिया के हर खिलाड़ी का बड़ा योगदान रहा।

पिछले दो मैचों में भले ही मनीष पांडे का बल्ला न चला हो लेकिन इंदौर वनडे में बाउंड्री लाइन पर अपने कमाल के कैच से वो एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं। ऑस्ट्रेलियाई पारी के दौरान उन्होंने पीटर हैंड्सकॉम्ब का शानदार कैच पकड़ा।

जसप्रीत बुमराह 48वां ओवर करवा रहे थे। उस ओवर की पांचवीं गेंद को हैंड्सकॉम्ब ने लॉन्ग ऑफ करी तरफ उठाकर मारा। ऐसा लगा कि वह गेंद छह रन के लिए बाउंड्री के बाहर चली जाएगी।

लेकिन तभी मनीष पांडे ने हवा में छलांग लगाते हुए बेहतरीन कैच लिया। लेकिन उन्हें लगा कि वह बाउंड्री लाइन क्रॉस कर गए हैं इसलिए उन्होंने उस बॉल को वापस मैदान के अंदर उछाला और खुद बाउंड्री के अंदर आकर एक बार फिर कैच पकड़ लिया।

Continue Reading

Cricket

Ind vs Aus : हार्दिक पंड्या चमके, आस्‍ट्रेलिया को हराकर भारत टॉप रैंकिंग के नंबर वन पर कायम

Published

on

Ind vs Aus : हार्दिक पंड्या चमके, आस्‍ट्रेलिया को हराकर भारत टॉप रैंकिंग के नंबर वन पर कायम

इंदौर। आलराउंडर हार्दिक पंड्या ने फिर जरूरत के समय सुनियोजित अर्धशतकीय पारी खेली जिससे भारत ने तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में आज यहां आस्ट्रेलिया को पांच विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 3-0 से अजेय बढ़त हासिल करने के साथ आईसीसी टीम रैकिंग में भी नंबर एक स्थान हासिल किया। हार्दिक पंड्या को मैन ऑफ द मैच चुना गया। रोहित शर्मा 62 गेंदों पर 71 रन और मुंबई के उनके साथी अंजिक्य रहाणे 76 गेंदों पर 70 रन ने पहले विकेट के लिये 139 रन जोड़कर भारत को शानदार शुरूआत दिलायी लेकिन वह पंड्या थे जिन्होंने भारत को मुकाम तक पहुंचाया। इस आलराउंडर ने चौथे नंबर पर उतरने के बाद 72 गेंदों पर 78 रन की पारी खेली जिसमें पांच चौके और चार छक्के शामिल हैं। इससे भारत ने 47.5 ओवर में पांच विकेट पर 294 रन बनाकर अपना विजय अभियान जारी रखा।

भारत की जीत की नींव हालांकि गेंदबाजों ने रख दी थी जिन्होंने आस्ट्रेलिया को अच्छी शुरूआत का खास फायदा नहीं उठाने दिया। आरोन फिंच की 125 गेंदों पर 124 रन की पारी और कप्तान स्टीव स्मिथ 63 के साथ दूसरे विकेट के लिये 154 रन की साझोदारी से आस्ट्रेलियाई टीम एक समय 350 रन तक पहुंचने की स्थिति में दिख रही थी लेकिन उसकी टीम आखिर में छह विकेट पर 293 रन ही बना पायी। फिंच ने अपनी पारी में 12 चौके और पांच छक्के शामिल हैं।

भारत ने इस तरह से जून 2016 से लेकर लगातार छठी द्विपक्षीय वनडे श्रृंखला जीती। इससे आईसीसी टीम रैंकिंग में उसके 120 अंक हो गये हैं और वह दक्षिण अफ्रीका 119 को पीछे छोड़कर शीर्ष पर काबिज हो गया है। भारतीय टेस्ट रैंकिंग में भी नंबर एक पर है। यही नहीं भारत ने होलकर पर अपना अजेय रिकार्ड भी बरकरार रखा। उसने यहां खेले गये सभी पांचों वनडे और एक टेस्ट में जीत दर्ज की है।

रोहित और पंड्या ने वीरेंद्र सहवाग की इसी मैदान पर वेस्टइंडीज के खिलाफ 2011 में खेली गयी 219 रन की पारी के कुछ रंग दिखाये। रोहित ने पैट कमिन्स की शार्ट पिच गेंद लांग लेग पर छह रन के लिये भेजने के बाद नाथन कूल्टर नाइल के अगले ओवर में लांग आफ पर छक्का लगाया। पहले बदलाव के रूप में आये केन रिचर्डसन पर जड़ा गया उनका गगनदायी शाट स्टेडियम से बाहर चला गया। एशटन एगर पर छक्के से उन्होंने अपना 33वां अर्धशतक पूरा किया।

दूसरी तरफ दोनों सलामी बल्लेबाजों के विकेट जल्दी निकलने के बाद टीम को किसी तरह के दबाव में आने से बचाने के लिये चौथे नंबर पर भेजे गये पंड्या ने एशटन एगर खिलाफ सुनियोजित आक्रमण किया। उन्होंने बायें हाथ के स्पिनर पर चार छक्के लगाये। यहां तक कि दो अवसरों पर जब भारत ने जल्दी दो . दो विकेट गंवाये तब भी उन्होंने बेफिक्र अंदाज में बल्लेबाजी की। चेन्नई में पहले मैच में 83 रन बनाने वाले पंड्या ने अपने चौथे अर्धशतक के लिये 45 गेंदें खेली।

रहाणे ने चतुराई भरी बल्लेबाजी की और गेंद को खाली स्थानों से निकालकर स्ट्राइक रोटेट करके दबाव बनाये रखा। वनडे में 21वां अर्धशतक पूरा करने के बाद वह भी बड़ी पारी नहीं खेल पाये। भारत ने आठ गेंद के अंदर रोहित और रहाणे के के विकेट गंवाये।

रोहित जब 67 रन पर थे तब कामचला विकेटकीपर पीटर हैंडसकांब ने उनका कैच छोड़ा था लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा पाये और कूल्टर नाइल की गेंद को पुल करके मिडविकेट पर हवा में लहराता हुआ कैच दे बैठे जबकि रहाणे को कमिन्स ने पगबाधा आउट किया। रोहित ने अपनी पारी में छह चौके और चार छक्के जबकि रहाणे ने नौ चौके लगाये।

पंड्या जब चौथे नंबर पर उतरे तो दर्शकों ने दिल खोलकर उनका स्वागत किया। उन्होंने और कप्तान विराट कोहली 28 ने तीसरे विकेट के लिये 56 रन जोड़े। भारत ने फिर तीन रन के अंदर दो विकेट गंवाये। कोहली ने ड्राइव करने के प्रयास में लांग आफ पर कैच दिया जबकि जाधव विकेट के पीछे कैच देकर पवेलियन लौटे।
पंड्या ने इसके बाद मनीष पांडे नाबाद 36 के साथ पांचवें विकेट के लिये 78 रन की साझोदारी की। जब वह कमिन्स 54 रन देकर दो विकेट की गेंद पर मिड आन पर कैच देकर पवेलियन लौटे तब भारत की जीत औपचारिकता मात्र रह गयी थी।

इससे पहले भारत ने अंतिम दस ओवरों में आस्ट्रेलिया पर अंकुश लगाया और इस बीच केवल 59 रन देकर चार विकेट निकाले। भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह 52 रन देकर दो और कुलदीप यादव 75 रन देकर दो ने दो . दो विकेट लिये जबकि युजवेंद्र चहल और हार्दिक पंड्या ने एक एक विकेट हासिल किया।

पिच सपाट थी, श्रृंखला में पहली बार टास ने स्मिथ का साथ दिया और आस्ट्रेलिया की वर्तमान में सर्वश्रेष्ठ सलामी जोड़ी ने अच्छी शुरूआत की थी। कुल मिलाकर उसकी टीम अपनी रणनीति के अनुसार स्पिनरों का सामना करने और बड़ा स्कोर खड़ा बनाने के लिये आदर्श स्थिति में थी। फिंच और डेविड वार्नर 42 ने पहले विकेट के लिये 70 रन की साझोदारी की।

भारत के खिलाफ अक्सर अच्छा प्रदर्शन करने वाले फिंच ने अपने कट, ड्राइव और स्वीप शाट का अच्छा नमूना पेश किया और दिखाया कि शीर्ष क्रम में वह आस्ट्रेलिया के लिये कितने उपयोगी हैं। वार्नर भी शुरू में गेंदबाजों को परखने के बाद लय पकड़ चुके थे। चहल पर लांग आन पर लगाया गया उनका सीधा छक्का आत्मविास से भरा था लेकिन पंड्या की आफ कटर पर वह चूक गये जिससे उनकी गिल्लियां बिखेर गयी।

फिंच ने कलाई के दोनों स्पिनरों चहल और कुलदीप की रांग उन यानि गुगली को निशाना बनाया। फिंच ने अपने पांच में से चार छक्के ऐसी गेंदों पर लगाये। कोहली ने 22वें ओवर में पहली बार कुलदीप को गेंद थमायी तो फिंच ने इस चाइनामैन का स्वागत चौके से किया। कोहली को जल्द ही भुवनेर कुमार और बुमराह को फिर से गेंद थमानी पड़ी।
भारतीय गेंदबाजों को शुरू में सफलता नहीं मिली लेकिन अपने अंतिम ओवरों में उन्होंने अच्छी वापसी की। फिंच ने कुलदीप की गुगली को चार रन के लिये भेजकर वनडे में अपना आठवां और भारत के खिलाफ दूसरा शतक पूरा किया। इसी गेंदबाज पर लगाया गया उनका लंबा शाट हालांकि मिडविकेट सीमा रेखा के पास केदार जाधव ने कैच में बदल दिया। फिंच और स्मिथ ने वर्तमान श्रृंखला में आस्ट्रेलिया की तरफ से पहली शतकीय भागीदारी निभायी।

कुलदीप ने स्मिथ को लांग आफ पर आसान कैच देने के लिये मजबूर किया जिन्होंने अपनी 71 गेंद की पारी में पांच चौके लगाये। चहल के अगले ओवर की पहली गेंद पर ग्लेन मैक्सवेल पांच चूक गये और महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी सदाबहार चपलता दिखाकर उन्हें स्टंप आउट करने में देर नहीं लगायी जबकि बुमराह ने ट्रेविस हेड चार को धीमी गेंद पर बोल्ड किया।

मैथ्यू वेड की जगह टीम में लिये गये हैंडसकांब केवल तीन रन बना पाये। मनीष पांडे ने बेहद चतुराई से सीमा रेखा पर छह रन के लिये जा रही गेंद को कैच में तब्दील करके बुमराह के नाम पर दूसरा विकेट दर्ज करवाया। पिछले मैच में अच्छी पारी खेलने वाले आलराउंडर मार्कस स्टोइनिस 27 रन बनाकर नाबाद रहे।

Continue Reading

Cricket

कुलदीप यादव के हैट्रिक से यूपी में खुशी की लहर, अखिलेश यादव ने दी ट्विटर पर बधाई

Published

on

कुलदीप यादव के हैट्रिक से यूपी में खुशी की लहर, अखिलेश यादव ने दी ट्विटर पर बधाई

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इतिहास रचने के बाद कुलदीप यादव के शहर कानपुर में ही नहीं बल्कि पूरे यूपी में खुशी की लहर दौड़ गई है। टीम इंडिया के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने हैट्रिक विकेट मारकर तहलका मचा दिया है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरे वनडे मैच में कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डन के मैदान पर एक बार फिर इतिहास रचा गया। इस बार ये कारनामा किया २२ साल के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने जिनपर टीम के नंबर एक स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन की गैर मौजूदगी में बड़ी जिम्मेदारी थी। कुलदीप यादव की इन तीन गेंदों से ही भारत की कोलकाता वनडे में जीत और ऑस्ट्रेलिया की हार तय हो गई। इसके अलावा कुलदीप ने अपना नाम इतिहास में दर्ज करवा लिया क्योंकि भारत की ओर से वनडे में हैट्रिक उनसे पहले महज दो ही गेंदबाजों के नाम हैं जिनमें पहले हैं चेतन शर्मा तो दूसरे खुद कपिल देव।

कुलदीप को सचिन तेंदुलकर, अखिलेश यादव ने दी बधाईयां

सचिन ने ट्विटर पर कहा कि- अच्छे बॉलर ही नहीं बेहतरीन खिलाड़ी भी हैं, सुपर्ब बैटिंग

अखिलेश यादव ने कहा- वंडरफुल हैट्रिक के लिए कुलदीप को बधाई

मुरली विजय ने कहा- ब्रिलियंट हैट्रिक, बधाई

इरफान पठान- महान उपलब्धि एक हैट्रिक प्राप्त करने के लिए बधाई जो अक्सर नहीं आती है

सुरेश रैना- शाबाश कुलदीप

कुलदीप की बहन- सच में आज बहुत अच्छा लग रहा है

कुलदीप के माता-पिता- हमें बेटे की इस उपलब्धि पर गर्व है

संजय मांजरेकर- मैं इस युवा खिलाड़ी से बेहद खुश हूं, ऐसी हैट्रिक बहुत कम देखने को मिलती है

गौतम गंभीर- गेंदबाजी का रहस्य बरकरार, ब्रैवो

Continue Reading
Advertisement

Polls

Online Shopping में Best Deal किसका ?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

Advertisement

Trending